इंसान और सारस की दोस्ती पर प्रियंका गांधी को फेसबुक पर लिखना पड़ा

अमेठी के रहने वाले आरिफ और एक सारस पक्षी की दोस्ती, जय-वीरू की तरह थी। साथ-साथ रहना, साथ खाना, साथ आना-जाना… उनकी दोस्ती इंसान की जीवों से दोस्ती की मिसाल है। आरिफ ने उनके प्रिय सारस को घर के सदस्य की तरह पाला, उसकी देखभाल की, उससे प्यार किया। ऐसा करके उन्होंने पशु-पक्षियों के प्रति इंसानी फर्ज की नजीर पेश की है जो कि काबिल-ए-तारीफ है।

हाल ही में ‘द एलिफेंट व्हिस्‍पर्स’ को ऑस्कर मिला, जिसकी कहानी भी एक हाथी और इंसान की संवेदनशील कहानी है। ये कहानियां हमें इसलिए भावुक करती हैं क्योंकि मनुष्य का जीवन और पर्यावरण में पाये जाने वाले जितने भी सहजीवन हैं, दोनों एक-दूसरे के पूरक हैं।

हमें हमारे पशु-पक्षी, पेड़-जंगल, पहाड़, ग्लेशियर, समुद्र, नदियां सबको बचाना है, सबकी हिफाजत करनी है। सुंदर और स्वस्थ पर्यावरण ही सुंदर जीवन दे सकता है और इंसान व वन्य जीवों के बीच प्रेम की ऐसी कहानियां हमें प्रेरणा देती हैं। सरकारों का भी यही काम है कि ऐसी कहानियों से प्रेरणा लें और वन्य जीवों व इंसानों के बीच मोहब्बत भरे रिश्ते से संवेदना के मोती चुनें।

आपको बता दें आरिफ और सारस कि दोस्ती सबकी नजरों में दबाए जब उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मिलने गए और तब मीडिया में चर्चा का केंद्र बन गया खबर है वन विभाग वालों ने आरिफ और सारस को अलग अलग कर दिया जिसमें अन्य अन्य लोगों की राय आ रही है आप क्या सोचते हैं इस पर अपनी राय दे सकते हैं।

Open chat
1
हमसे जुड़ें:
अपने जिला से पत्रकारिता करने हेतु जुड़े।
WhatsApp: 099273 73310
दिए गए व्हाट्सएप नंबर पर अपनी डिटेल्स भेजें।
खबर एवं प्रेस विज्ञप्ति और विज्ञापन भेजें।
hindrashtra@outlook.com
Website: www.hindrashtra.com
Download hindrashtra android App from Google Play Store